यूपी में अब IAS, IPS और PCS की फ्री कोचिंग, डीएम और कमिश्नर को मिली पढ़ाने की ज़िम्मेदारी

ऐसे अनेकों छात्र हैं, जो यूपीएससी और पीसीएस की तैयारी करना चाहते हैं। वहीं बहुत ऐसे भी हैं, जो इसकी तैयारी कर रहें हैं। कुछ छात्र ऐसे भी हैं, जो आर्थिक स्थिति से कमज़ोर होने या किसी अन्य दिक्कतों की वजह से यूपीएससी और पीसीएस की तैयारी नहीं कर पाते हैं। ऐसे में उत्तरप्रदेश में जीआईसी में छात्रों को प्रशासनिक सेवाओं और अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की मुफ्त में कोचिंग सेवाएं प्रदान की जायेगी।

वसंत पंचमी से होगा शुभारंभ

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के तहत इसकी शुरुआत वसंत पंचमी को होगी, जिसमें कमिश्नर फिजिक्स और डीएम इतिहास विषय को पढायेंगे। अन्य प्रशासनिक अधिकारियों को भी एक-एक विषय पढ़ाने की ज़िम्मेदारी सौंपी गई है।

उत्तरप्रदेश के 71वें स्थापना दिवस के अवसर पर युपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अभ्युदय योजना की घोषणा किया था। इस योजना के तहत IAS, IPS, PCS, NDA, CDS, NIIT और JEE आदि प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहें छात्रों को सरकार द्वारा मुफ्त में कोचिंग उप्लब्ध कराया जायेगा। इसके अलावा आईएएस, आईपीएस और पीसीएस अधिकारी छात्रों का मार्गदर्शन भी करेंगे।

free coaching for UPSC students

माध्यमिक विद्यालय, प्राइवेट कोचिंग के अच्छे शिक्षक भी विषय विशेषज्ञ के रूप में अपनी सेवाएं देंगे। आपको बता दें कि बरेली में जीआईसी को इस योजना के तहत कोचिंग के लिये चयन किया गया है, इसमें बन रही स्मार्ट कक्षाओं में इस योजना का संचालन होगा। इसके साथ ही तैयारी कर रहे छात्रों को क्वेश्चन बैंक, सिलेबस और ऑनलाइन स्टडी मटेरियल भी उपलब्ध कराया जायेगा।

पढ़ाने के लिये सर्वश्रेष्ठ शिक्षकों का हुआ चयन

कोचिंग में पढ़ाने के लिये जेडी डॉ. प्रदीप कुमार को शिक्षकों का पैनल तैयार करने की ज़िम्मेदारी सौंपी गई थी। जेडी ने अपनी टीम के सहयोग से शहर के सर्वश्रेष्ठ शिक्षकों का पैनल तैयार किया है। इस पैनल में माध्यमिक स्कूलों के साथ-साथ प्राईवेट कोचिंग के शिक्षकों को भी सम्मिलित किया गया है।

free coaching for UPSC students

डॉ प्रदीप कुमार ने कहा कि मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के तहत छात्रों को फ्री कोचिंग सेवाएं दी जायेगी। कोचिंग में कक्षाएं लेने के लिये अधिकारियों और शिक्षकों का पैनल तैयार कर लिया गया है। कोचिंग में छात्रों को भिन्न-भिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं के सिलेबस और एग्जाम पैटर्न आदि की मुफ्त जानकारी दी जायेगी तथा उच्च स्तरीय कोचिंग संस्थाओं के स्टडी मैटेरियल भी उपलब्ध कराए जायेंगे।

उत्तरप्रदेश सरकार द्वारा की जा रही यह पहल बहुत सारे छात्रों के लिये बहुत ही फायदेमंद साबित हो सकता है। हम सरकार के इस योजना की तारीफ करते हैं।

News Desk

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *