बेकार पड़ी चाय पत्ती से ऐसे बनेगी कारगर खाद, मिलेगा मुनाफा

सुबह सबको जगाने वाली चाय, सबको पसंद आती है। क्या आपने सोचा है कि उसकी चाय पत्ती भी आपके काम आ सकती है? जानिए कैसे

चाय पत्ती में पोटेशियम, फॉस्फोरस और 4 फ़ीसदी नाइट्रोजन भी होता है। चाय पत्ती को अगर हम पौधों में डालें तब पौधों को भरपूर मात्रा में नाइट्रोजन मिलता है। आपने आज तक चाय पत्ती का उपयोग केवल चाय बनाने में ही किया होगा, जिससे आपकी सुबह की नींद उड़ सके। चाय पत्ती से हम पौधों के लिए खाद भी बना सकते हैं।

नुकसान नदारत मगर फायदों की दुकान

अगर आप खेती, गार्डनिंग या बागवानी करते हैं, तब घर के छत पर गमले में या क्यारी पेड़ पौधों में महंगे खाद और उर्वरक का इस्तेमाल भी करते होंगे लेकिन क्या आप जानते हैं कि रासायनिक खाद्य उर्वरक से नुकसान भी बहुत होता है।

Use of tea leaf Uttar Pradesh

अगर आप इस रसायनिक उर्वरकों की जगह चाय पत्ती की खाद या कोई अन्य खाद का प्रयोग करेंगे तो फायदा भी होगा और पैसे भी बचेंगे। हम सबके घर में चाय तो बनती ही होगी मगर चाय बनने के बाद चाय पत्ती का कोई उपयोग नहीं होता।

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में चाय पत्ती का उपयोग

गली, नुक्कड़ पर चाय की दुकान पर भी काफी मात्रा में इस्तेमाल की गई चाय पत्ती फेंकने के लिए जमा की जाती है। इतने मात्रा में चाय पत्ती कचरे में चली जाती है।चाय बनने के बाद चाय पत्ती का हम फिर से चाय में इस्तेमाल नहीं कर सकते परंतु हम इसका उपयोग खाद बनाने में ज़रूर कर सकते हैं। यह हमारे पेड़-पौधों के लिए काफी कारगर है। यह पेड़-पौधों के लिए पोषक तत्व की तरह काम करता है।

Use of tea leaf Uttar Pradesh

ब्रह्मदेव कुमार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की नगरी में बागवानी करते हैं। वह एक लंबे समय से बेकार चाय पत्ती का इस्तेमाल पेड़-पौधों के खाद बनाने के लिए करते आ रहे हैं। ब्रह्मदेव कुमार के मुताबिक चाय पत्ती से बनी खाद पेड़-पौधों के लिए काफी कारगर है।

ब्रह्मदेव कुमार कहते हैं कि चाय पत्ती में 4 फ़ीसदी नाइट्रोजन के अलावा पोटैशियम और फास्फोरस भी होता है, और काफी सारे माइक्रो इनग्रेडिएंट्स भी रहते हैं। चाय पत्ती से बनी खाद पौधों में डालने से पौधों को भरपूर मात्रा में नाइट्रोजन मिलती है। ब्रह्मदेव बताते हैं कि चाय पत्ती को दूसरे गीले कचरे के साथ मिलाकर खाद बना सकते हैं, या केवल चाय पत्ती की भी खाद बनाई जा सकती है।

Use of tea leaf Uttar Pradesh

ऐसे बना सकते हैं खाद

चाय पत्ती से खाद बनाना कोई मेहनत का काम नहीं है। इसे बनाना बहुत ही आसान है।

•इस्तेमाल की गई चाय पत्ती
•मिट्टी का एक घड़ा और ढक्कन
•घड़े में छेद करने के लिए कोई कील

चाय पत्ती बनाने के बाद चाय पत्ती में अदरक तुलसी और इलायची जैसे हर उसके गुण भी आ जाते हैं, लेकिन चाय पत्ती में दूध और चीनी भी मौजूद होती है, जिस वजह से बदबू भी आ सकती है। चीनी के कारण पौधों में चीटियां भी लग सकती है इसलिए चाय पत्ती को पहले एक जगह जमा कर लें और उसके बाद उसे पानी से धोकर निचोड़ ले। उसके बाद उस चाय पत्ती की खाद बना लें।

News Desk

One thought on “बेकार पड़ी चाय पत्ती से ऐसे बनेगी कारगर खाद, मिलेगा मुनाफा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *