दूसरे प्रयास में यूपीएससी क्लियर करने वाली अंकिता ने दिए एग्जाम से जुड़े जरूरी टिप्स

हर वर्ष लाखों लोग यूपीएससी की परीक्षा देते हैं, जिनमें से कुछ ही सफल हो पाते हैं। उनकी कहानी सबसे अनोखी बन जाती है। आज हम एक छोटे से कस्बे की रहने वाली यूपीएससी टॉपर की बात करेंगे। आज हम हरियाणा के एक छोटे से कस्बे की अंकिता चौधरी (Ankita Chaudhary) की बात करेंगे। अंकिता साल 2018 में 14वीं रैंक के साथ यूपीएससी परीक्षा में सफलता प्राप्त कर अपने कस्बे की पहचान बन चुकी हैं।

अंकिता की पढ़ाई का सफर

अंकिता शुरू से ही पढ़ाई में बहुत अच्छी थीं। यूपीएससी परीक्षा देना और इस क्षेत्र में आना अंकिता का बचपन का सपना था। अंकिता ने इस दिशा में प्रयास भी शुरू कर दिए था। अंकिता एक इंटरव्यू में बताती हैं कि उन्होंने अपनी शुरुआती पढ़ाई हरियाणा से पूरी की। बारहवीं के बाद आगे की पढ़ाई के लिए उन्होंने दिल्ली का रुख किया और यहीं से उन्होंने ग्रेजुएशन और पोस्टग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी की। दोनों ही क्लासेस में अंकिता ने केमिस्ट्री विषय चुना और उन्होंने इसमें सफलता भी प्राप्त की।

Ankita gives tips related to exam

अंकिता का यूपीएससी का सफर

अंकिता ने यूपीएससी में ऑप्शनल विषय के तौर पर केमिस्ट्री की जगह पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन को चुना। पीजी करने के बाद अंकिता का बस एक ही लक्ष्य था यूपीएससी में सफलता प्राप्त करना और वह इसकी तैयारियों में जुट गईं। साल 2017 में अंकिता ने अपना पहला अटेम्प्ट दिया लेकिन अपनी तरफ से कोई कसर ना छोड़ने के बावजूद भी वह सफल नहीं हो पाईं। अंकिता ने इस असफलता से हार नहीं मानी और दोबारा कोशिश की। इस कोशिश में वह ना केवल सफल रहीं बल्कि टॉपर भी बन गई।

यह भी पढ़े :- वजन कम करनी है तो इस तरह केला खाइए, वजन घटने की गारंटी है

अंकिता देती हैं प्री परीक्षा की जानकारी

अंकिता बताती हैं कि प्री परीक्षा के लिए बेसिक मजबूत करना बहुत जरूरी है तथा इसके लिए 9वीं से लेकर 12वीं तक की एनसीईआरटी के किताबें पढ़ना चाहिए। इसके अलावा प्री परीक्षा की तैयारी के लिए सभी स्टैंडर्ड बुक्स चुनें तथा इस बात का ध्यान रखें कि ज्यादा बुक्स इकट्ठा ना करें क्योंकि ऐसा करने से रीवीजन अच्छे से नहीं हो पाएगा। अंकिता नोट्स को बहुत जरूरी मानती हैं। वह कहती हैं कि नोट्स से हम परीक्षा के समय में अच्छे से रीवीजन कर पाते हैं। उनका कहना है कि इस तरीके से तैयारी करें कि परीक्षा के पहले 3 बार नोट्स की रीवीजन हो जाए। जब आपका सिलेबस पूरी तरह कंप्लीट हो जाए तब आप मॉक टेस्ट देना शुरू करें। इससे कैंडिडेट को अपनी गलतियों का पता चलता हैं और वह समय रहते इसे दूर कर पाते हैं।

Ankita gives tips related to exam

अंकिता ने दी मेन्स परीक्षा की जानकारी

अंकिता मेन्स परीक्षा के लिए कहती हैं कि इसके लिए आंसर राइटिंग प्रैक्टिस करना बहुत जरूरी है, क्योंकि भले ही आपको कितना भी ज्ञान हो लेकिन अच्छे अंक पाने के लिए आपको सबसे बेस्ट आंसर लिखना बहुत जरूरी है और यह केवल आंसर राइटिंग से ही मुमकिन हो पाता है इसलिए जितना हो सके उतना आंसर राइटिंग प्रैक्टिस करें। यह आपकी रैंक बढ़ाने में भी मदद करता है। इसके अलावा अंकिता कहती हैं कि वहीं सब्जेक्ट चुनें, जिसमें आपको रुचि हो। अंकिता खुद केमिस्ट्री बैकग्राउंड से होने के बावजूद पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन का चुनाव कर पढ़ीं और उनका यह फैसला अच्छे अंक आने से सही भी साबित हुआ।

Ankita gives tips related to exam

यूपीएससी की परीक्षा में सफल होने के टिप्स

अंकिता कहती हैं कि यूपीएससी की परीक्षा में सफलता प्राप्त करने के लिए दिन रात पढ़ना जरूरी नहीं होता। फ्रेश महसूस करने के लिए आप आपने हॉबीज को भी टाइम दें। अंत में अंकिता यही कहती हैं कि जमकर रिवीजन करें, पेपर के एक दिन पहले अच्छी नींद लें और चिंता बिल्कुल भी ना करें। इस सफर का आनंद लें और इसे बोझ ना समझे। ऐसा करने से आपको यूपीएससी की परीक्षा में सफलता जरूर प्राप्त होगी।

अंकिता चौधरी की कड़ी मेहनत तारीफ के योग्य है।

News Desk

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *