तिरंगे को आग से बचाने के लिए लगा दी जान की बाजी, जानिए एक दमकल कर्मी के साहस की अनूठी दास्तां

तिरंगे के सलामती की अनेकों कहानियां हम सब सुने हैं, पढ़ें हैं और देखते भी आ रहे हैं। हाल हीं में एक घटना सामने आई है, जिसमें देखा गया कि तिरंगे को बचाने के लिए फायर ब्रिगेड के कर्मचारी ने अपनी जान की भी परवाह नहीं की और तिरंगे को सही सलामत बचा लिया।

क्या है पूरा मामला

मुंबई के एक कोविड हॉस्पिटल में आग लगने से हलचल मच गई है, जिसमें 10 लोगों की मौत भी हो चुकी है। फायर ब्रिगेड टीम आग की खबर मिलते ही मौके पर पहुंच कर आग पर काबू पाने की कोशिश की, लेकिन आग की लपटें काफी तेज थी जिसके कारण उसपर काबू नहीं पाया जा सका।

Saved Tricolour by Fire Briged

आग की चपेट में आया तिरंगा झंडा

हॉस्पिटल में लगी आग की चपेट में हमारा राष्ट्रध्वज भी आने वाला था, लेकिन फायर ब्रिगेड की टीम ने अपनी जान को जोखिम में डालकर तिरंगे को सुरक्षित बचा लिया।

मुंबई पुलिस कमिश्नर ने मैनेजमेंट को ठहराया जिम्मेदार

यह सनराइज अस्पताल भांडुप क्षेत्र में चार मंजिला ड्रीम मॉल के सबसे उपरी मंजिल पर स्थित है। मुंबई के पुलिस कमिश्नर हेमंत नागराले ने हॉस्पिटल में लगी आग के लिए मैनेजमेंट की लापरवाही को जिम्मेदार ठहराया है। इस हॉस्पिटल में 76 कोरोना के मरीजों का इलाज हो रहा था, उन्हीं में से आग के कारण 10 मरीजों की मौत भी हो गई।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ने जताया दुःख

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे सनराइज अस्पताल का दौरा किए और घटनास्थल पर पहुंचकर दुख जताया।

News Desk

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *