जानिए राम मंदिर निर्माण में लंका से आखिर क्या आ रहा बेहद खास, माता सीता से है उसका गहरा नाता

जब से अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का रास्ता साफ हुआ है और पिछले साल प्रधानमंत्री मोदी ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की नींव रखी है तब से राम मंदिर निर्माण में नए-नए आयाम जुड़ रहे हैं। हाल हीं में मंदिर से संबंधित एक महत्वपूर्ण आयाम जुड़ा है। दरअसल श्री लंका में सीता एलिया नाम का एक स्थान है वहां का एक पत्थर राम मंदिर के निर्माण में लगाया जा रहा है। इस पत्थर का माता सीता से गहरा संबंध बताया जा रहा है।

ऐसा माना जाता है कि यह उसी जगह का पत्थर है जहां पर माता सीता को रावण द्वारा बंदी बनाकर रखा गया था। पत्थर को श्रीलंका के उच्चायुक्त मिलिंडा मोरागोङा द्वारा भारत लाने की उम्मीद है।

Stone of Ram Mandir

सीता एलिया नामक स्थान पर माता सीता का एक मंदिर भी है जो रामायण काल में उन्हें रावण द्वारा बंदी बनाने को चिन्हित करता है। ऐसा माना जाता है कि माता सीता नियमित रूप से राम द्वारा खुद को बचा ले जाने के लिए प्रार्थना किया करती थीं।

आप सब को ज्ञात हो कि पिछले साल अगस्त महीने में प्रधानमंत्री मोदी जी ने राम मंदिर निर्माण की आधारशिला रखी थी। अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का जिम्मा श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र को दिया गया है। ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने कहा कि अगले 3 साल में भव्य मंदिर बनकर तैयार हो जाएगा।

भगवान श्रीराम में हिन्दू धर्म के साथ-साथ अन्य धर्मों के लोगों की गहरी आस्था है इसकी बानगी आपको राम मन्दिर निर्माण हेतु इकट्ठे किए जा रहे चंदे में दिखेगी। हिन्दू धर्म के साथ अन्य धर्म के लोगों ने भी राम मंदिर निर्माण के लिए खूब धनराशि दी है। सभी लोगों को अपने आराध्य श्रीरामचन्द्र जी के भव्य मंदिर के निर्माण होने की बेसब्री से इंतजार है।

News Desk

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *