24.1 C
New Delhi
Monday, November 29, 2021
HomeBusinessNykaa की फाल्गुनी नायर, 50 की उम्र में आया आइडिया, बन गईं...

Nykaa की फाल्गुनी नायर, 50 की उम्र में आया आइडिया, बन गईं सेल्फ-मेड महिला अरबपति!

“पसीने की स्याही से जो लिखते है, अपने इरादों को…
उनके मुकद्दर के पन्ने कभी कोरे नहीं हुआ करते”।

इस बात को साबित करती हैं महज़ 9 सालों में अरबों की कंपनी खड़ी करने वाली Nykaa की फाउंडर श्रीमती फाल्गुनी नायर जी। जिन्होंने अपनी मेहनत और काबिलियत के दम पर इतनी बड़ी कंपनी खड़ी करने का कीर्तिमान स्थापित किया है।आइए जानते हैं उनके जीवन के सफर के बारे में।

कुछ अलग करने की चाह

19 फरवरी 1963 महाराष्ट्र के मुंबई के एक गुजराती परिवार में जन्मी फाल्गुनी नायर के पिता एक बिज़नेसमैन थे। उनकी मां भी बिज़नेस में सहयोग किया करती थी। लेकिन फाल्गुनी अपनी अलग पहचान बनाना चाहती थी। अपनी स्कूली शिक्षा पूरी करने के बाद फाल्गुनी नायर बचपन से ही कुछ अलग करने की थी चाह Indian Institute of Management अहमदाबाद से पी.जी की पढ़ाई की।

अपना बिजनेस शुरू किया

आगे चलकर फाल्गुनी कोटक महिंद्रा ग्रुप की Managing Director भी बनीं। नौकरी करने के बाद भी फाल्गुनी नायर अपने करियर से खुश नहीं थी। वो कुछ अलग करना चाहती थी। शादी और दो बच्चों की मां बनने के बाद भी उन्होंने कभी अपने सपनों से समझौता नहीं किया। इसलिए उन्होंने साल 2012 में बिज़नेस शुरू करने के लिए अपनी जॉब से Resign दे दिया। जिसके बाद उन्होंने बिज़नेस शुरू किया।

Nykaa को शुरू करने की योजना

साल 2012 में देश में ऑनलाइन प्रोडक्ट खरीदना-बेचना इतना प्रसिद्ध नहीं था, लेकिन फाल्गुनी नायर ने देखा कि लोगों को सभी ब्रांड के समान एक ही शॉप नहीं मिलते। ऐसे में फाल्गुनी नायर ने cosmetics products को ऑनलाइन बेचने का फैसला किया। लेकिन उनके लिए सबसे बड़ी समस्या यह थी कि उनके पास इससे जुड़ी ज्यादा जानकारी नहीं थी। लेकिन श्रीमती फाल्गुनी नायर फैसला कर चुकी थी इसलिए उन्होंने रिस्क लेते हुए साल 2012 में नायका Nykaa की शुरूआत की।

परेशानियों के बाद पाई सफलता

श्रीमती फाल्गुनी नायर को ‘नायका’ की शुरुआत में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। पहले चार साल में उनके तीन चीफ टेक्नोलॉजी ऑफिसर्स ने इस्तीफा दे दिया। ऐसे में वह शुरुआत में सभी ऑर्डर को खुद देखती थी। यही नहीं अपनी कंपनी को आगे बढ़ाने में उन्हें काफी मेहनत करनी पड़ी। लेकिन उन्होंने कभी हार नहीं मानी। साल 2014 में उनकी कंपनी को सिकोइया कैपिटल इंडिया से करीब 7 करोड़ रुपए का शुरुआती निवेश मिला। इसके बाद धीरे-धीरे कई लोगों ने ‘नायका’ में निवेश किया।

ब्रांड बन चुका है नायका

साल 2012 में शुरू हुआ एक छोटा सा स्टार्टअप आज एक बडें ब्रांड के रूप में स्थापित हो चुका है। नायका’ शुरुआत में सिर्फ ऑनलाइन प्रोडक्ट बेचती थी, लेकिन बाद में महिलाओं की जरुरत को देखते हुए ‘Nykaa’ ने ऑफलाइन स्टोर्स भी खोले। नायका’ आज cosmetics products का देश का सबसे बड़ा ऑनलाइन प्लेटफार्म बनकर उभरा है। ‘नायका’ के जरिए आप अपने फ़ोन से सभी ब्रांड के प्रोडक्ट देख सकते हैं और अपने घर बुलवा सकते हैं। आज इस प्लेटफॉर्म पर हर मिनट 30 से ज्यादा मेकअप प्रोडक्ट्स की बिक्री होती है। नायका आज अरबों की कंपनी बन चुकी है।

श्रीमती फाल्गुनी नायर की आज जितनी भी प्रशंसा की जाए कम है।

Medha Pragati
मेधा बिहार की रहने वाली हैं। वो अपनी लेखनी के दम पर समाज में सकारात्मकता का माहौल बनाना चाहती हैं। उनके द्वारा लिखे गए पोस्ट हमारे अंदर नई ऊर्जा का संचार करती है।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments