मियां खलीफा ने दिया फिर बयान, “मैं किसानों के साथ खड़ी हूँ”

आजकल माहौल गर्म है। पूरा देश दो भागों में बंट चुका है। एक धड़ा जो किसानों के साथ है वही दूसरा धड़ा जो किसानों के खिलाफ है। अब इसी कड़ी में जुड़ गई है मियां खलीफा। जानते हैं ना आप इनको। नहीं। गूगल पर सर्च कर लीजिए लेकिन ध्यान रहे आस पास कोई हो ना!

हां तो बात ऐसी है कि इसी मियां खलीफा ने खलबली मचा दी है। ट्वीट कर दिया है कि वह किसानों के साथ हैं। देश में तो हल्ला होना ही था। बवाल मच गया। साथ में कई अंतरराष्ट्रीय हस्ती जैसे कि रिहाना, ग्रेटा थनबर्ग इत्यादि भी उनके साथ हो गए। किसान आंदोलन पर आंसू बहाने लगे।

रिहाना और मियां खलीफा के ट्वीट ने देश में हड़कंप मचा दिया। वह भी बोलने लगे जो अभी तक नहीं बोल रहे थे। देश को एकता में रहने का संदेश देने लगे। दूसरा आंदोलन शुरू हो गया। पहला तो चल ही रहा था कि किसान बिल के खिलाफ, अब दूसरा चालू हो गया रिहाना और मियां खलीफा के खिलाफ। टि्वटर फेसबुक गालियों से भर गया। लोग यहीं नहीं रुके पोस्टर लेकर सड़क पर भी आ गए। तख्तियों पर संदेश दे रहे थे। यहीं हो गया कांड।

हमारे एक देशभक्त तख्ती लेकर संदेश दे रहे थे। अब अगर विरोध मियां खलीफा का करना है तो अंग्रेजी तो लिखना पड़ेगा। कैसे लिखा जाए। गूगल ट्रांसलेट का सहारा लिया गया। लिखना चाह रहे थे की मियां खलीफा होश में आओ और लिख गए मियां खलीफा को होश आ गया। लिखा तो लिखा यह तक ही वायरल भी हो गया। उड़ता उड़ता मियां खलीफा के पास पहुंच गया। उन्होंने ट्वीट करके मौज ले ली। देखिए ट्विट।

हिंदी में ये – “मैं होश में आ गई हूं इस बात को कंफर्म करने के लिए एवं मेरे लिए इतनी चिंता व्यक्त करने के लिए आप लोगों का शुक्रिया। वैसे इसकी कोई जरूरत ही नहीं। मैं आज भी किसानों के साथ खड़ी हूं।”

अब ऐसा मसाला हाथ लगे तो हमारे फेसबुक और ट्विटर के धुरंधर कहां पीछे रहने वाले थे। मजाकों का दौर चल पड़ा। इन्हीं में से कुछ क्विट्स हम आपके लिए आज लेकर आए हैं। देखिए ट्वीट्स।

तो मतलब साफ है। विरोध करना है विरोध कीजिए। तख्ती लेकर निकलिए। लेकिन कम से कम यह तो देख लीजिए की तख्ती पर लिखा क्या है। कहीं ऐसा ना हो कि आपकी तख्ती आपको मजाक का पात्र बना दे।

News Desk

One thought on “मियां खलीफा ने दिया फिर बयान, “मैं किसानों के साथ खड़ी हूँ”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *