21.1 C
New Delhi
Monday, November 29, 2021
HomeEntertainmentअलविदा पुनीत राजकुमार : साउथ फिल्म इंड्रस्टीज के स्टार पुनीत राजकुमार उर्फ...

अलविदा पुनीत राजकुमार : साउथ फिल्म इंड्रस्टीज के स्टार पुनीत राजकुमार उर्फ अप्पू का शुक्रवार को निधन हो गया, पर उनकी आंखे देखती रहेंगी दुनिया

साउथ फिल्म इंड्रस्टीज के स्टार पुनीत राजकुमार उर्फ अप्पू का शुक्रवार को निधन हो गया। पुनीत राजकुमार को गंभीर हालत में बैंगलोर के अस्पताल में आईसीयू में भर्ती किया गया था। 46 वर्षीय पुनीत कन्नड़ सिनेमा के पावर स्टार करे जाते थे। उनके निधन से चारों तरफ शोक की लहर है।

कन्नड़ फ़िल्म के सुपरस्टार

पुनीत राजकुमार का जन्म लोहित के रूप में कन्नड़ फिल्म उद्योग के सुपर स्टार डॉ॰ राजकुमार और निर्माता पर्वतम्मा राजकुमार के घर हुआ था। वे उनके पाँचवें और सबसे छोटे बेटे थे। पुनीत पांच भाई बहनों में सबसे छोटे थे। पुनीत के पिता राजकुमार उन्हें और उनकी बहन को फिल्म के सेट पर ले जाया करते थे। तभी से उन्होंने अभिनय करने की ठान ली थी। पुनीत कन्नड़ सिनेमा में सबसे ज्यादा फीस लेने वाले एक्टर्स में शुमार थे।

कई फिल्मों में काम किया

पुनीत ने साउथ की फिल्म आकाश ,अरसु, मिलन और वंशी जैसी फिल्मों के लिए जाना जाता है। इसके अलावा उन्होंने 29 से ज्यादा साउथ की फिल्मों में काम किया है। वह अभिनेता होने के साथ-साथ प्लेबैक सिंगर, टीवी प्रेजेंटर और प्रोड्यूसर भी थे। वो एक मल्टी टैलेंटेड इंसान थे। उनकी माँ भी उनकी मां प्रोड्यूसर और डिस्ट्रीब्यूटर थीं।

कम उम्र में अवार्ड जीता

पुनीत राजकुमार ने महज 10 साल की उम्र में ही नेशनल अवॉर्ड जीत लिया था। उनका नाम सिनेमा क्षेत्र में महंगे अभिनेता में शुमार था। उन्हें बेस्ट चाइल्ड आर्टिस्ट का अवार्ड मिला था। पुनीत ने वर्ष 1999 में अश्विनी के साथ शादी के बंधन में बंध गए थे। पुनीत राजकुमार की पत्नी का नाम अश्विनी रेवनाथ है। पुनीत राजकुमार के बच्चों का नाम वंदिता राजकुमार और द्रिथि राजकुमार है।

आंखों को किया था दान

पिता की ही तरह अभिनेता पुनीत राजकुमार की भी आंखें दान की गई हैं। पुनीत के पिता और प्रसिद्ध दक्षिण अभिनेता डॉ राजकुमार ने खुद 1994 में अपने पूरे परिवार की आंखों को दान करने का फैसला किया था। वहीं पुनीत के निधन के बाद डॉक्टरों की एक टीम ने उनकी मृत्यु के छह घंटे के भीतर ही उनके आंख को निकाला। पुनीत राजकुमार के परिवार के इस सेवा के भावना कि तारीफ अब हर जगह हो रही है।

Medha Pragati
मेधा बिहार की रहने वाली हैं। वो अपनी लेखनी के दम पर समाज में सकारात्मकता का माहौल बनाना चाहती हैं। उनके द्वारा लिखे गए पोस्ट हमारे अंदर नई ऊर्जा का संचार करती है।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments