चमोली रेस्क्यू ऑपरेशन को लीड करने वाली आईपीएस अपर्णा कर चुकी हैं कई पहाड़ों को फतह

आज हम एक ऐसी महिला IPS ऑफिसर की बात करेंगे, जिसने बहुत से कठिन रेस्क्यू ऑपरेशन लीड किये हैं। उत्तराखंड के चमोली में ग्लेशियर की तबाही को कौन नहीं जानता? हालत इतने बुरी हैं कि जिधर देखो बस मलबा ही दिख रहा है। राहत कार्य में टीमें जुटी हैं, ITBP के जवान रेस्क्यू के कार्य में जुटे हैं और इस रेस्क्यू ऑपरेशन टीम को लीड कर रही हैं IPS ऑफिसर अपर्णा कुमार।

अपर्णा कुमार (Aparna Kumar) को जानिए

अपर्णा कर्नाटक के शिवमोगा की रहने वाली हैं। उनकी शुरुआती पढ़ाई कर्नाटक में हुई है। उसके बाद उन्होंने BA-LLB की पढ़ाई पूरी की। अपर्णा साल 2002 कैडर की IPS ऑफिसर हैं। वह ITBP की DIG हैं। ऐसे मुश्किल समय में उत्तराखंड की सरकार ने रेस्क्यू की पूरी ज़िम्मेदारी अपर्णा को दे दी। अपर्णा के पति संजय कुमार भी यूपी कैडर के IAS ऑफिसर हैं।

IPS Aparna Kumar

अपर्णा 7 सबसे ऊंची चोटियां चढ़ चुकी हैं

अपर्णा ने अबतक दुनिया की 7 सबसे ऊंची चोटियों पर तिरंगा लहराया है। उन्होंने माउंट एवरेस्ट, माउंट किलिमंजारो, माउंट एलएल्ब्रुस, कार्सटेंस पिरामिड, विन्सन मैसिफ, माउंट एकांकागुआ और माउंट डेनाली जैसे ऊंची चोटियों पर चढ़ाई की हैं। ये सभी चोटियां 7 अलग-अलग महाद्वीपों में हैं। उन्हें 7 समिट्स’ भी कहा जाता हैं।

अपर्णा ने चोटियों पर चढ़ने का किया फैसला

अपर्णा को यह ऊंची चोटियों पर चढ़ने का ख्याल साल 2002 में आया। अपर्णा मसूरी में एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विसेज की ट्रेनिंग के दौरान पहली बार बर्फ से ढके पहाड़ों को देखा था। जब अपर्णा ने पहली बार यह नज़ारा देखा तब ही उन्होंने इन चोटियों पर चढ़ने का फैसला कर लिया परंतु उन्हें यह करने में 11 वर्ष का समय लगा। अपर्णा 39 साल की उम्र में पहली बार 2013 में माउंटेनियर फाउंडेशन का कोर्स किया।

IPS Aparna Kumar

अपर्णा का चोटियों पर चढ़ने का सफर

अपर्णा ने कोर्स पूरा करने के बाद पहली बार साल 2014 में अफ्रीका की सबसे ऊंची माउंट किलिमंजारो (19, 19,340 फीट) की चोटी पर चढ़ाई की। उसी साल ऑस्ट्रेलिया और ओशिनिओशिनिया के सबसे ऊंचे पर्वत कार्स्टेंस पिरामिड (16,024 फीट) पर अपनी परचम लहराई। उसके एक साल बाद अपर्णा ने अर्जेंटीना की सबसे ऊंची माउंट एकॉनकागुआ (22,822,840 फीट) का सफर तय किया और उसी साल उन्होंने रूस की कोकेशियान रेंज की सबसे ऊंची चोटी माउंट एल्ब्रुस (18,510 फीट) पर कामयाबी हासिल की।

IPS Aparna Kumar

अपर्णा ने 7 समिट्स पर चढ़ के बनाया रिकॉर्ड

उसके बाद अपर्णा साल 2016 में अंटार्कटिका की सबसे ऊंची चोटी विन्सन मासिफ (16,050 फीट) पर चढ़ाई की। उसी साल उन्होंने वर्ल्ड की सबसे ऊंची चोटी नेपाल की माउंट एवरेस्ट पर चढ़ाई की।अपर्णा ने नेपाल में मौजूद दुनिया की आठवीं सबसे ऊंची चोटी ममाउंट मानसालु पर तिरंगा फहराया और देश का नाम रोशन किया। अपर्णा दक्षिणी ध्रुव पर पहुंचने वाली पहली भारतीय IPS ऑफिसर हैं। साल 2019 में वह माइनस 40 डिग्री तापमान में दक्षिणी ध्रुव पर पहुंची। साल 2019 में अपर्णा अमेरिका की माउंट डेनाली की चढ़ाई करके 7 समिट्स पर चढ़ाई का रिकॉर्ड बना लिया।

News Desk

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *