मस्त जोक्स: एक सुंदर पति-पत्नी को काला बच्चा पैदा हुआ, पति: मैं भी गोरा तुम भी गोरी, बच्चा काला कैसे ??

भागदौड़ वाली जिंदगी में सुकून के पल मुश्किल से ही मिलते हैं। ऐसे में आज हम आपके लिए अपने पिटारे में से लाजवाब जोक्स लेकर आए हैं। इसे पढ़ने के बाद आप हंसते-हंसते लोटपोट हो जाएंगे।

एक केस चल रहा था।
जज ने कहा-तुम्हें तलाक क्यों चाहिए।
पति-जज साहब, मेरी वाइफ मुझसे लहसुन छिलवाती है, प्याज कटवाती है और बर्तन भी मंजवाती है।
जज- इस में दिक्कत क्या है? छिलने से पहले लहसुन को थोड़ा गर्म कर लिया करो, छिलके आसानी से उतर जाएंगे। प्याज को थोड़ी देर फ्रिज में रख दो, उसके बाद काटो इससे आंखों में जलन नहीं होगी। जब बर्तन मांजने जाते हो तो 10 मिनट पहले पानी से भरे टब में उसे डाल दो। बर्तन खूब जल्दी और अच्छे से साफ हो जाएंगे।
पति- मैं समझ गया हुजूर। मेरी अर्जी मुझे वापस दे दो।
जज- क्या समझ में आया?
पति- यही हुजूर कि आप की हालत तो मुझसे भी कहीं ज्यादा खराब है।

एक बार एक लड़का साइकिल से कहीं जा रहा था। उसने साइकिल से एक महिला को पीछे से टक्कर मार दी। महिला गुस्से में दम दमाती हुई बोली- घंटी नहीं मार सकते?
लड़के ने बड़ी मासूमियत से जवाब दिया- पूरी की पूरी साइकिल मार दी और क्या घंटी अलग से मारूं?

एक बार हरियाणा के चौधरी साहब अपने बेटे के लिए छोरी देखने गए।
जब छोरी सामने आई तो पता चला की छोरी खूब काली थी।
सुपर काली।
छोरी के पापा ने कहा- चौधरी साहब दहेज में हम चार चक्का देंगे, आप रिश्ता तय कर लो।
चौधरी साहब बोले- भाई बात तो आप ठीक बोल रहे हो लेकिन अगर मैं यह काला जामुन अपने घर ले गया तो आने वाली पीढ़ियों में हमारी छोरियों को ब्याह कराने के लिए तो हमें हेलीकॉप्टर देना पड़ेगा।

funny jokes1

एक बार एक मौलवी साहब का एक पांव नीला पड़ गया।
मौलवी साहब बड़े परेशान हुए।
भागे भागे हकीम साहब के पास गए। हकीम ने देखा। बोला- मौलवी साहब बात तो बड़ी घबराने वाली लग रही है। लगता है इस पांव में जहर फैल गया है। आपको ये पैर कटवाना पड़ेगा, नहीं तो जहर पूरे शरीर में फैल जाएगा और आप मर भी सकते हैं।
अब मौलवी साहब करे तो क्या करें।
आखिरकार उन्होंने एक टांग कटवा ही ली।
उसके बदले नकली टांग लगाई गई।
कुछ दिनों बाद उनकी दूसरी टांग भी नीली पड़ गई।
फिर हकीम के यहां पहुंचे।
हकीम बोला- लगता है जब तक पाँव काटा गया तब तक जहर दूसरे पांव में भी फैल चुका था। अब तो इसे भी कटवाना पड़ेगा।
मरता क्या न करता।

मौलवी साहब की दूसरी टांग भी काट दी गई। और मौलवी साहब दोनों ही नकली टांगों के सहारे थे। आश्चर्य की बात यह रही कि कुछ दिनों बाद साहब की नकली टांग भी नीली पड़ने लगी।
हकीम साहब बुलाए गए।
हकीम साहब ने ऊपर से नीचे तक मौलवी साहब को देखा।
बोले- अच्छा अब समझ में आया। आपके तो लूंगी से रंग गिरता है।
मौलवी साहब ने माथा पीट लिया।

News Desk

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *