उत्तरप्रदेश के हिस्ट्रीशीटरों में नाम आने पर काफ़िल खान ने दिया यह बड़ा बयान

उत्तरप्रदेश के गोरखपुर में प्रशासन द्वारा 81 नए हिस्ट्रीशीटरों की लिस्ट जारी किया जा चुका है जिनमे एक है डॉक्टर कफील खान।

क्या है हिस्ट्रीशीटरों का पूरा मामला

यूपी में होने वाले पंचायत चुनाव से पहले गोरखपुर पुलिस ने हिस्ट्रीशीटरों की लिस्ट जारी की है, जिसमें कफील खान का नाम टॉप-10 में शामिल है। गोरखपुर में कुल 1562 हिस्ट्रीशीटर थे, अब नए लिस्ट आने के बाद 81 नाम और जुड़ गए और अब कुल हिस्ट्रीशीटरों की संख्या 1643 हो गई। कफील खान पर कुल 4 केस दर्ज है, उनपर 3 बार NSA भी लगाया जा चुका है। कफील खान के अनुसार उनपर लगे सारे केस फर्जी है।

Doctor Kafil Remarks

हिस्ट्रीशीटरों के लिस्ट में नाम आने के बाद कफील खान ने एक वीडियो जारी कर कहा है कि पुलिस उनपर 24 घंटे नजर रखे, उनके साथ दो पुलिसवालों की ड्यूटी भी लगा दी जाए जिससे वो फर्जी मुकदमों से बच जाएं। कफील ने यह भी कहा कि पुलिस द्वारा अपराधियों पर कोई कारवाई नहीं की जा रही और बेगुनाह लोगों पर कारवाई की जा रही है।

पुलिस ने कहा कि हिस्ट्रीशीट के जरिए अपराधीयों पर नज़र बनाए रखना आसान होता है। गोरखपुर के सीओ सिटी वीरेंद्र प्रताप सिंह ने कहा कि कफील खान पर 4 गंभीर मामले दर्ज है जिसके कारण उनको हिस्ट्रीशीट में शामिल किया गया है।

कफील खान पर लगे आरोपों का खुलासा

कफील के वकील केएन तिवारी के अनुसार कफील पर लगे 3 आरोपों का खुलासा पुलिस चार्टशीट लगाकर कर चुकी है। जिसमें पहला मामला है गोरखपुर में 63 बच्चों के मौत का, दूसरा अलीगढ़ में हेट स्पीच का और तीसरा बहराइच अस्पताल में हुए विवाद का। हालांकि चौथे मामले की जांच अभी जारी है।

कोर्ट के आदेश पर हटाया NSA

2107 में गोरखपुर के एक अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी के कारण 60 से भी ज्यादा बच्चों की मौत हो गई थी, जिसके खिलाफ कफील पर मुकदमा दर्ज हुआ था। फिर जनवरी 2020 में काफील को AMU में दिए गए भाषण के मामले में गिरफ्तार किया गया था और NSA भी लगाया गया था। इस मामले में करीब 6 महीने बाद इलाहाबाद हाईकोर्ट ने यूपी सरकार से फटकार लगाई और NSA को हटाया गया।

News Desk

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *