ना केवल पपीता का फल बल्कि उसके बीज के भी हैं अनेक फायदे: ऐसे करें उपयोग

पपीता फल अधिकतर लोगों को पसंद होता है। कुछ लोग इसके स्वाद के लिए तो कुछ लोग इसके फायदे के लिए पपीता खाना पसंद करते हैं। पपीता पेट की समस्याओं को दूर रखता है, दिल के स्वास्थ्य को बेहतर करता है। यह बहुत सी बीमारियों से लड़ने में मदद करता है। ना केवल फल बल्कि इसके बीजों के भी बहुत लाभ होते हैं। यह पौष्टिक फल पूरे साल उपलब्ध होता है। यह हमारे संपूर्ण स्वास्थ्य और कल्याण के लिए बहुत ही अच्छा पोषण का स्रोत है।

पपीते के बीजों का लाभ

बहुत कम लोग यह जानते होंगे कि पपीते के बीज स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभदायक होते हैं। अक्सर लोग यह सोचकर बीजों को फेंक देते हैं कि वे बेकार हैं, लेकिन ऐसा नहीं हैं क्योंकि पपीता के फल के साथ-साथ बीज में भी कई पोषक तत्वों होते हैं। पपीता कई स्वास्थ्य लाभों से भरपूर होता हैं परंतु बहुत से लोगों को इसकी जानकारी नहीं होती। पपीता के बीजों में शक्तिशाली एंटिऑक्सीडेंट्स पाए जाते हैं। आज हम उसके बीज के बारे में जानेंगे।

Benifits of papaya seeds

पपीते के बीज में एंटीऑक्सिडेंट पाए जाते हैं

पपीते के बीज पॉलीफेनॉल्स, फ्लेवोनोइड्स, एल्कलॉइड्स, टैनिन और सैपोनिन समृद्ध मात्रा में होते हैं। इसमें एंटीऑक्सिडेंट पाए जाते हैं। एंटीऑक्सिडेंट शरीर को मुक्त कणों के नुकसान से बचने में मदद करते हैं। पपीते के बीज के सेवन से हम बहुत से बीमारियों से खुद को बचा सकते हैं।

पपीते का बीज पेट के लिए है बहुत ही कारगर

पपीते के बीज में फाइबर की मात्रा बहुत ज़्यादा होती है। जिससे हमारे आंत के मूवमेंट को विनियमित करने में मदद मिलती है। शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने तथा इस प्रकार के एक स्वस्थ आंत को बनाए रखने में यह बीज कारगर है। इसके अलावा यह कब्ज से भी छुटकारा दिला सकता है। पपीते के बीजों में मौजूद कारपाइन हमारी आंतों में बैक्टीरिया और परजीवियों को मार कर हमारे पाचन तंत्र को स्वस्थ रखने में मदद करता है।

Benifits of papaya seeds

पपीते के बीज से मोटापा रोका जा सकता है

पपीते के बीज में फाइबर पाए जाते हैं, जो हमारे पाचन को ठीक रखता है। इसी प्रकार यह हमारे शरीर से कई विषाक्त पदार्थों को हटाने में मदद करता है। इसके अलावा यह बीज हमारे चयापचय को विनियमित करने में भी मदद करता है। साथ ही यह हमारे शरीर से वसा को अवशोषित करने से रोकता है। इससे मोटापा रोकने में भी बहुत मदद मिलती है।

पपीते के बीज में ओलिक एसिड पाए जाते हैं

पपीते के बीज में ओलिक एसिड जैसे मोनोअनसैचुरेटेड फैटी एसिड होते हैं। जिससे यह खराब कोलेस्ट्रॉल (एलडीएल कोलेस्ट्रॉल) को कम करके कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करता है। इसमें पाए जाने वाले फाइबर भी कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद करता है।

यह भी पढ़े :- फ़टी एड़ियों से परेशान हैं, तो एक दिन में ऐसे पाएं राहत…

पपीते के बीज हमारे हृदय को स्वास्थ्य रखते हैं

पपीते के बीज हमारे दिल की रक्षा करने के लिए जाना जाता है। इनमें विभिन्न एंटीऑक्सिडेंट पाए जाते हैं, जो हमारे शरीर को मुक्त कणों से होने वाले नुकसानों से बचने में मदद करता है। इसके अलावा यह रक्तचाप और कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में भी सहायक माना जाता है। यह हमारे हृदय को विभिन्न विकारों से बचने में मदद करता है।

Benifits of papaya seeds

पपीते के बीज सूजन को कम करने में मदद करता है

पपीते के बीज सूजन को कम करने में मदद करते हैं। यह बीज विटामिन सी और एल्कलॉइड, फ्लेवोनोइड और पॉलीफेनोल्स जैसे चीजों से भरपूर होता है। यह सभी यौगिक एंटी इंफ्लेमेटरी गुणों का प्रदर्शन करते हैं। इसी प्रकार यह बीज गठिया आदि रोगों में सूजन को रोकने तथा कम करने में कारगर है।

पपीते से होने वाले नुकसान

जहां पपीते के इतने फायदे हैं, वही इसके कुछ नुकसान भी हैं। गर्भावस्था में पपीते की अधिक सेवन करने से यह बढ़ते भ्रूण के लिए हानिकारक होता है। इसके अलावा पपीते के बीजों के अधिक सेवन से शुक्राणुओं की संख्या प्रभावित होने से पुरुषों में प्रजनन क्षमता कम हो सकती है तथा पपीते के बीजों के अधिक सेवन से डायरिया भी हो सकता है।
स्तनपान कराने वाली माताओं के लिए बहुत अधिक पपीते के बीज खाना अच्छा नहीं होता।

यह जानकारी किसी चिकित्सक के द्वारा दी गई जानकारी नहीं हैं। आप इसके सेवन से पहले चिकित्सक सलाह जरूर लें।

News Desk

One thought on “ना केवल पपीता का फल बल्कि उसके बीज के भी हैं अनेक फायदे: ऐसे करें उपयोग

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *