अब हवा में उगाये जाएंगे आलू, इस नई तकनीक से किसानों को 10 गुना अधिक फायदा हो सकता है

समय के साथ हमारे देश का विज्ञान भी बहुत आगे बढ़ रहा है। इससे हमारे देश के किसान भी नई तकनीकों का प्रयोग कर लाभ कमा रहे और सफलता के शिखर तक पहुँच रहे हैं। आज हम कुछ ऐसी ही अनोखे तकनीक की बात करेंगे जिसपर यकीन करना तो मुश्किल है, परंतु सच है।

Aeroponic method of potato farming

एरोपोनिक तकनीक से होगा किसानों को लाभ

क्या आप जानते हैं, आलू हवा में उगाया जा सकता है? जी हाँ.. और यह सच हो पाया है, सिर्फ एरोपोनिक तकनीक (Aeroponic Potato Farming) से। इस तकनीक की मदद से आलू बिना जमीन और मिट्टी के भी उगाया जा सकता है। हरियाणा के करनाल जिले में स्थित आलू प्रौद्योगिकी केंद्र (Potato Technology Center) ने भी एरोपोनिक तकनीक को अपनाया है। वे बताते हैं कि इस तकनीक से जमीन की कमी को पूरा किया जा सकता है। साथ ही इससे 10 गुना तक पैदावार भी बढ़ जाएगी।

यह भी पढ़ें :- उत्तरप्रदेश के किसान ने 15 साल के अथक प्रयास से अमरूद की नई प्रजाति विकसित की, सरकार के तरफ से मान्यता भी मिला

Aeroponic method of potato farming

एरोपोनिक तकनीक से बिना जमीन और मिट्टी के उगाया जा सकता है आलू

आलू प्रौद्योगिकी केंद्र, करनाल का इंटरनेशल पोटेटो सेंटर के साथ एमओयू हुआ है। भारत सरकार ने भी एरोपोनिक तकनीक से आलू की खेती करने की मंजूरी दे दी है। सरकार ने बागवानी विभाग को किसानों को इस तकनीक के लिए जागरुक करने का काम दिया है। जानकार बताते हैं कि एयरोपोनिक तकनीक से उगाए गए आलू को जड़ों के जरिए न्यूट्रीएंट्स दिया जाता है। एरोपोनिक तकनीक से आलू उगाने के लिए मिट्टी और जमीन की जरूरत नहीं पड़ती।

Aeroponic method of potato farming

एरोपोनिक तकनीक से बीज की उत्पादन बढ़ेगी

बताया जा रहा है कि एरोपोनिक तकनीक से खेती करने से किसानों को कम लागत में ज्यादा मुनाफा हो सकता है। परंपरागत खेती की तुलना में एरोपोनिक तकनीक से किसानों को ज्यादा लाभ होगा। इस तकनीक से बीज के उत्पादन की क्षमता तीन से चार गुना तक बढ़ जाती है। एरोपोनिक तकनीक से ना सिर्फ हरियाणा के बल्कि अन्य राज्यों के किसानों को भी मुनाफा होगा।

News Desk

2 thoughts on “अब हवा में उगाये जाएंगे आलू, इस नई तकनीक से किसानों को 10 गुना अधिक फायदा हो सकता है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *