कश्मीर की आयशा बनी सबसे कम उम्र की महिला पायलट, देश के लिए गौरव का क्षण

अब लड़कियां लड़कों से किसी भी काम में पीछे नहीं हैं। चाहे वह काम घर के लिए हो या बाहरी दुनिया में अपनी एक अलग पहचान बनाने का हो। इसी बात को सच कर दिखाया है, जम्मू कश्मीर की बेटी आयशा ने। उन्होंने मात्र 25 वर्ष की उम्र में एयर इंडिया की फ्लाइट उड़ाने में कामयाबी हासिल की है। इतना ही नहीं बल्कि वह देश की पहली ऐसी महिला हैं, जिन्होंने सबसे कम उम्र में पायलट बन कर दिखाया। आयशा पर केवल उसका गांव या शहर ही नहीं बल्कि पूरे देश को गर्व है।

आयशा के बारे में कुछ खास जानकारी

आयशा जम्मू कश्मीर की रहने वाली हैं। उन्होंने अपनी खुशी जाहिर करते हुए कहा है कि उन्हें लोगों से मिलना और हवाई यात्रा करना बहुत अच्छा लगता है और यही कारण था कि उन्होंने पायलट बनाने का विचार किया। उनका कहना है कि एक पायलट बनने के लिए यह जरूरी है कि आप मानसिक रूप से मजबूत हो। आयशा का यह भी कहना है कि उन्होंने अपने सपनों को पूरा करने के लिए काफी मेहनत भी की थी।

young pilot from Kashmir

मात्र 16 वर्ष की उम्र में ही मिला लाइसेंस

साल 2011 में जब आयशा मात्र 16 वर्ष की थी उस वक्त ही उन्होंने स्टूडेंट पायलट लाइसेंस हासिल कर लिया था। उन्होंने बॉम्‍बे फ्लाइंग क्लब से पायलट की ट्रेनिंग ली है, जहां से उन्हें लाइसेंस मिला। इस दौरान उन्होंने अपनी पढ़ाई पर कोई असर नहीं पड़ने दिया। वह पूरे सप्ताह स्कूल जाती थीं और केवल छुट्टियों पर ही विमान उड़ाने की ट्रेनिंग लिया करती थीं। उनको सिंगल इंजन का सेना 152 और 172 एयरक्राफ्ट उड़ाने का अनुभव है। इतना ही नहीं उन्हें अपनी 200 घंटे की उड़ान पूरा करने के बाद कमर्शियल पायलट का भी लाइसेंस दिया गया था।

young pilot from Kashmir

कश्मीरी महिलाएं भी बढ़ रही है आगे

आयशा अपनी कामयाबी का श्रेय अपने माता-पिता को देती हैं। वह कहती हैं कि कश्मीरी महिलाओं ने पिछले कुछ सालों में काफी प्रगति की है, चाहे वह शिक्षा के क्षेत्र में हो या फिर नौकरी के। एक पायलट का कहना है कि नौकरी के साथ ही एक गतिशील काम के माहौल के लिए विषम परिस्थितियों के बावजूद भी आयशा ज़िंदगी की चुनौतियों का सामना करने के लिए हमेशा तैयार रहती थी।

इतनी कम उम्र में इतनी बड़ी कामयाबी हासिल करने वाली आयशा की कहानी प्रत्येक व्यक्ति के लिए काफी प्रेरणादायक है।

News Desk

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *